महामृत्युंजय यज्ञ एवं शिव पुराण कथा

दिनांक 3 फरवरी से 13 फरवरी 2018 तक

महामृत्युञ्जय मंत्र या महामृत्युंजय मंत्र “मृत्यु को जीतने वाला महान मंत्र”) जिसे त्रयंबकम मंत्र भी कहा जाता है, यजुर्वेद के रूद्र अध्याय में, भगवान शिव की स्तुति हेतु की गयी एक वंदना है। इस मंत्र में शिव को ‘मृत्यु को जीतने वाला’ बताया गया है। यह गायत्री मंत्र के समकालीन हिंदू धर्म का सबसे व्यापक रूप से जाना जाने वाला मंत्र है।

आगामी 3 फरवरी से 13 फरवरी 2018 तक वैष्णव भक्ति जागृति मिशन अंतर्राष्ट्रीय सेवा संस्थान(रजि.) एवं आध्यात्मिक सत्संग सेवा धाम की ओर से जनहित में किया जा रहा है। इस यज्ञ का लक्ष्य जन कल्याण विश्व शांति देश उत्थान नशा मुक्ति भ्रूण हत्या कन्या बचाओ एवं बेटी पढ़ाओ स्वच्छ भारत के लिए यह यज्ञ वैदिक मंत्रों के द्वारा एवं शिव पुराण कथा के माध्यम से जन-जन की सुरक्षा के लिए किया जाएगा इच्छुक व्यक्ति संपर्क कर सकने के लिए 9 41744 7553 पर संपर्क कर यज्ञ में अपनी भागीदारी सुनिश्चित कर सकते हैं धन्यवाद जय हिंद जय भारत।।

Skip to toolbar